Category: धर्म

धर्म

Yam Dwitiya Ki Katha

Yam Dwitiya Ki Katha

भगवान सूरज नारायण की पत्नी का नाम छाया था। उसकी कोख से यमराज तथा यमुना का जन्म हुआ था। यमुना यमराज से बड़ा स्नेह...

Vyatipaat Ki Katha

Vyatipaat Ki Katha

एक समय की बात है । चन्द्रमा को क्या सुझा कि उसने गुरू बृहस्पतीजी की पत्नी का हरण किया तो सूर्य ने कहा, ‘ऐसा...

Vijaya Ekadashi Vrat Katha

Vijaya Ekadashi Vrat Katha

स्कंद पराण में इस एकादशी के महिमा का वर्णन किया गया है । महाराज युधिष्ठिर ने पूछा, “हे प्रभु ! फाल्गुन मास के कृष्ण...

Vaman Avtar Ki Katha

Vaman Avtar Ki Katha

वामन अवतार (Vaman Avtar)  पुराणों में लिखा है कि देव माता अदिति ने विष्णु जी की तपस्या की। तपस्या से प्रसन्न होकर भगवान ने...

Utpanna Ekadashi Ki Katha

Utpanna Ekadashi Ki Katha

 उत्पन्ना एकादशी का महात्म्य भविष्योत्तर पुराण में भगवान् श्रीकृष्ण अपने मित्र अर्जुन को बताते है। नैमिष्यारण्वमें एकत्रित हुए सभी ऋषियों को सूत गोस्वामी बताते...

Upang Lalita Panchami Vrat

Upang Lalita Panchami Vrat

हिन्दू पंचांग के अनुसार शारदीय नवरात्रि के आश्विन शुक्‍ल पंचमी को ललिता पंचमी पर्व या उपांग ललिता पर्व मनाया जाता है। यह पर्व शक्तिस्वरूपा...

Tulsi Ekadashi Vrat Katha

Tulsi Ekadashi Vrat Katha

तुलसी एकादशी कार्तिक कृष्ण एकादशी को ही तुलसी एकादशी कहते हैं। इस दिन तुलसी की पूजा की जाती है। तुलसी नामक पौधो की महिमा...

Sita Navmi-janki Navmi Ki Vrat Katha Aur Vidhi

 वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की नवमी को सीता नवमी कहते हैं। धर्म ग्रंथों के अनुसार, इसी दिन माता सीता का प्राकट्य हुआ था।...

Shree Krishna Ki Kahani

Shree Krishna Ki Kahani

 मायापति की माया सुदामा ने एक बार श्रीकृष्ण से पूछा कान्हा, मैं आपकी माया के दर्शन करना चाहता हूं  कैसी होती है? श्री कृष्ण...

Tara Rani Ki Amar Katha

Tara Rani Ki Amar Katha

माता के जगराते में महारानी तारा देवी की कथा कहने व सुनने की परम्‍परा प्राचीन काल से चली आई है। बिना इस कथा के...