Category: धर्म

धर्म

Devi Mahatmay Adhyay-01

                               अध्याय – 01 इस अध्याय में:- (मेधा ऋषि का राजा सुरथ और समाधि को भगवती की महिमा बताते हुए मधु-कैटभ-वध का प्रसंग सुनाना)...

Diwali Ki Katha

Deepawali Ki Sampurn Katha

भारत के इतिहास के रूप में दीवाली उत्सव का इतिहास लगभग पुराना है। अब यह कहना आसान नहीं है कि वास्तव में इसके मूल...

Choti Aur Badi Sankali Ki Vrat Vidhi

Choti Aur Badi Sankali Ki Vrat Vidhi

छोटी सांकली का व्रत कार्तिक मास प्रारम्भ होते ही पूर्णमासी से प्रारम्भ करें। इस दिन निराहार रहे। फिर दो दिन भोजन करें और पुन:...

Chitragupt Pooja Aur Vrat Katha Ka Mahatva

Chitragupt Pooja Aur Vrat Katha Ka Mahatva

जो भी प्राणी धरती पर जन्म लेता है उसकी मृत्यु निश्चित है क्योकि यही विधि का विधान है. विधि के इस विधान से स्वयं...

Vaman Avtar ki Katha

Vaman Avtar ki Katha

वामन अवतार (Vaman Avtar)  पुराणों में लिखा है कि देव माता अदिति ने विष्णु जी की तपस्या की। तपस्या से प्रसन्न होकर भगवान ने...

Chatur Mas Ke Niyam

Chatur Mas Ke Niyam

देवशयनी एकादशी के दूसरे दिन से चातुर्मास प्रारम्भ करना चाहिये यह विष्णु भगवान के शयन का व्रत है। करना जब सूर्य नारायण कर्क राशि...

Chhath Pooja Vrat Katha Aur Mahatav

Chhath Pooja Vrat Katha Aur Mahatav

छठ व्रत भगवान सूर्यदेव और षष्टी देवी को समर्पित एक विशेष पर्व है। यह पर्व भारत के कई हिस्सों में मनाया जाता है खासकर...

Shukra Pradosh Vrat Katha

Shukra Pradosh Vrat Katha

जो प्रदोष व्रत शुक्रवार के दिन पड़ता है वो शुक्र प्रदोष या भुगुवारा प्रदोष व्रत कहलाता है। इस व्रत को करने से जीवन से...